Saturday, June 8, 2019

चाय पीने से होने वाले 20 मुख्य नुकसान I side effects of drinking tea in Hindi

अगर आप पीते हैं, चाय तो जान लीजिए क्या होगा उसका दुष्प्रभाव Tea Side Effects in Hindi



side effects of drinking tea in Hindi

                Tea Side Effects



सुबह उठते ही आपको चाय पीने (Tea) की एक आदत (Habit) सी होगी।
आपको बिना चाय पिए तो जैसे चैन ही नहीं पड़ता होगा । बेड टी (Bed Tea) का कल्चर न केवल शहरों में प्रचलित है "Tea Side Effects" बल्की गांव-देहात में भी लोग सुबह की शुरुआत चाय (Tea) से ही करना पसंद करते हैं.करीब कई ईसा पूर्व पहले ह्मारे घरों में चाय नहीं बना करतीं थी, लेकिन आज कोई भी घर मे आए तोअतिथि को पहले चाय के लिए ही पूछा जाता है ये बदलाव अंग्रेजों की देन है। tea side effects जब अंग्रेज आये तो उन्होंने इस जहर की खेती की उनको चाय की जरूरत भी थी क्योकि उनका ब्लडप्रेशर लो रहता था। कई लोग उपवास में भी चाय पीते हैं।यदि कोई भी डॉक्टर के पास जाता है, तो वह सिगरेट, शराब, तम्बाकू छोड़ने के लिए कहेगा लेकिन चाय के लिए नहीं क्योंकि यह उसे सिखाया नहीं गया है और वह स्वयं भी उसका गुलाम है लेकिन अगर वह एक अच्छा पढ़ालिखा डॉक्टर है तो वह सबसे पहले आपको चाय न पीने की सलाह देगा।  * चाय की हरी
side effects of drinking tea in Hindi
पत्ती पानी में उबाल कर पीने में कोई बुराई नहीं परन्तु जहां यह बन कर (
Firmat) काली हुई तो सारी बुराइयां उसमें आ जाती है।* हमारा देश (India) गर्म देश है और चाय शरीर मे गर्मी व पित्त बनाती है।चाय का सेवन करने से शरीर में उपलब्ध पोषक तत्व (Vitamins) खत्म होते हैं।इसके सेवन से स्मरण शक्ति (Memory lost) धीरे-धीरे कम होने लगती है।


 चाय पीने के दुष्प्रभाव  I Side effects of drinking tea

1. दूध से बनी चाय आमाशय (stomach) पर बुरा प्रभाव डालती है और इससे पाचन क्रिया को क्षति पहुंचाती है। 

2. चाय पीने से कैंसर (Cancer) तक होने की संभावना रहती है। 

3. चाय में कैफीन (Caffeine) तत्व 6% मात्रा में होता है जो रक्त को दूषित करने के साथ शरीर के अवयवों को कमजोर भी करता है। 

4. चाय मेंउपलब्ध कैफीन (Caffeine) हृदय पर बुरा प्रभाव डालती है, अत:चाय का अधिक सेवन प्राय: हृदय के रोग (Heart disease) को उत्पन्न करने में सहायक होता है। 

5. चाय का सेवन Blood की असल उष्मा को खत्म करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। 

6. जो लोग चाय ज्यादा पीते हैं उनकी आंतें (Intestines ) जवाब दे जाती हैं। कब्ज घर कर जाती है  और मल निष्कासन में कठिनाई (stool cleansing) आने लगती है। 

7. चाय से न्यूरोलाजिकल गड़बड़ियां (Neurological disturbances) आ जाती हैं। 

8. चाय से स्नायविक गड़बड़ियां (conflicts) होती हैं, कमजोरी और पेट में गैस भी होने लगती है।

9. चाय में उपलब्ध यूरिक एसिड (Uric acid) से मूत्राशय या मूत्र नलिकायें कमजोर हो जाती हैं,  जिसके परिणाम स्वरूप चाय का सेवन करने वाले व्यक्ति को बार-बार मूत्र आने की समस्या उत्पन्न हो जाती है। 

10. चाय पीने से अनिद्रा (Insomnia) की शिकायत भी बढ़ती जाती है। 

11. इससे दांत खराब होते है !रेलवे स्टेशनों या चाय की दुकान पर बिकने वाली चाय का सेवन यदि न करें तो बेहतर होगा क्योंकि ये बर्तन को साफ किये बगैर कई बार Same बर्तन में चाय बनाते हैं जिस वजह से कई बार चाय विषैली हो जाती है।चाय को कभी भी दोबारा गर्म करके न पिएं तो बेहतर होगा। 

12. शरीर में आयरन अवशोषित ना हो (Iron is not absorbed) पाने से एनीमिया हो जाता है। इसमें मौजूद कैफीन (Caffeine) लत लगा देता है और लत हमेशा बुरी ही होती है। 

13. बाज़ार की चाय अक्सर अल्युमीनियम के भगोने में (Aluminum) खदका कर बनाई जाती है।चाय के अलावा यह अल्युमीनियम भी घुल कर पेट की प्रणाली को बर्बाद करने में कम भूमिका नहीं निभाता है। 

14. चाय से भूख मर जाती है, मस्तिष्क सूखने लगता है, गुदा और नसें कमजोर हो जाती हैं, जिससे डायबिटीज़ (Diabetes Disease) जैसे रोग होते हैं। 

15. कई बार हम लोग बची हुई चाय को Thrumas में डालकर रख देते हैं भूलकर भी ज्यादा देर तक थरमस में रखी चाय का सेवन न करें, जितना हो चाय पत्ती को कम से कम ऊबालिए व एक बार चाय बन जाने पर उपयोग की गई चाय पत्ती को फेंक दें। 

16. ज़्यादा चाय पीने से खुश्की (Dryness) आ जाती है ।आंतों के स्नायु भी कठोर (Intestinal muscles) बन जाते हैं। 

17. चाय के हर कप के साथ एक या अधिक चम्मच शक्कर डाली जाती है जो (Increases body weight) शरीर के वजन को बढ़ाती है। 

18. अक्सर लोग चाय के साथ नमकीन, बिस्कुट, पकौड़ी आदि लेते हैं।यह विरुद्ध आहार है।इससे (Skin diseases) त्वचा का रोग होता हैं। 

19. चाय-कॉफी के व्यसन (Habit) में फँसे हुए लोग स्फूर्ति का बहाना बनाकर हारे हुए जुआरी की तरह व्यसन में अधिकाधिक गहरे डूब जाते हैं।वे लोग शरीर, मन, दिमाग और पसीने की कमाई व्यर्थ गँवा देते हैं और भयंकर व्याधियों (inclusion) के शिकार बन जाते हैं। 

20. चाय का सेवन लिवर पर बुरा प्रभाव डालता है, इसके सेवन से धीरें-धीरें (Lever weakens)लीवर कमजोर होने लगता है। 


चाय का विकल्प I Tea`s option

सुबह ताज़गी के लिए गर्म पानी लीजीए। चाहें तो उसमें आंवले के टुकड़े या नीबू का रस मिला दें, इससे ताजगी आएगी और ये वजन कम करने में मदद.भी करेगा।सुबह गर्म पानी में शहद नींबू डाल के पी सकते हैं।गर्म पानी में तरह-तरह की जैसे कि तुलसी की कुछ पत्तियाँ  डाल कर पी सकते हैं। चीन ,जापान में लोग ऐसी ही चाय पीते हैं जिस वजह (Reason) से वे लोग स्वस्थ एवं दीर्घायु होते हैं। कभी पानी में मधुमालती (Honeysuckle) की पंखुड़ियां, कभी मोगरें (Arabian Jasmine) की, कभी जासवंद (Hibiscus) कभी पारिजात (Night Jasmine) आदि डाल कर पी सकते हैं। 


side effects of drinking tea in Hindi

                      Tea Side Effects


गर्म पानी में Lemon-Grass (मुख्य रूप से उत्तर भारत में उगाई जाने वाली घास है) , तेजपत्ता (Bay-leaf /Cassia), पारिजात आदि के पत्ते, अर्जुन की छाल (Terminalia arjuna), इलायची या दालचीनी (Cinnamon) इनमें से कुछ एक डाल कर पियें।घर पर कोई मेहमान आये तो चाय नहीं बल्कि  गाय का दूध, नीबू शर्बत या शीकंजी पिलाएं, जिससे उसका स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा और ये आसानी से तैयार भी हो जाएगा।देश में चाय (Caffeine) के कारण बहुत नुकसान हो रहा है इसलिए आज़ाद भारत के पाठकों को इसे अवगत कराना जरूरी है। 

हमारा लेख आपको कैसा लगा ये हो सके तो हमें जरूर लिखीए । धन्यवाद ! Thanks !


NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
 

Delivered by FeedBurner